Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana: दूसरी संतान बेटी होने पर 8 हजार रुपए मिलेंगे

Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana: दूसरी संतान बेटी होने पर 8 हजार रुपए मिलेंगे

राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी की 103वीं जयंती के शुभ अवसर पर यह किया है। राजस्थान ने इस योजना को राज्य की सभी गर्भवती महिलाओं को ध्यान में रखते हुए शुरू किया है ताकि उनके बच्चे के जन्म के बाद किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य संबंधी कमजोरी से बचने के लिए राज्य सरकार ने उन्हें इंदिरा गांधी मातृत्व योजना के माध्यम से ₹6000 की सहायता दी है। पोषण योजना योजना राजस्थान, जो पात्र महिलाओं को 5 चरणों में दी जाएगी। वर्तमान में राजस्थान के केवल 4 जिले इस योजना के अंतर्गत हैं। ही शामिल किया गया है और बहुत जल्द सरकार हमारे पूरे राज्य में इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 को सफलतापूर्वक लागू करेगी।




Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के तहत वित्तीय सहायता

गर्भावस्था परीक्षण और पंजीकरण पर पहली किस्त ₹1000
दूसरी किश्त ₹1000 दो प्रसवपूर्व जांच के बाद
तीसरी किस्त ₹1000 संस्थागत प्रसव पर
बच्चे के जन्म के 105 दिनों के बाद सभी नियमित टीकाकरण और बच्चे के जन्म के पंजीकरण की प्राप्ति पर चौथी किस्त ₹ 2000
बच्चे के जन्म के 3 माह के अंदर परिवार नियोजन पद्धति अपनाने पर 5वीं किस्त ₹1000




Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 Highlights

🔥 योजना का नाम                        🔥 Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana
🔥उद्देश्य                                     🔥 गर्भवती महिलाओं और उनके बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान करना।
🔥 लाभार्थी                                   🔥 गर्भवती महिलाएं
🔥 राजस्थान सरकार की                 🔥 लॉन्चिंग किसने की
🔥 आधिकारिक वेबसाइट               🔥 जल्द ही लॉन्च की जाएगी
🔥 आर्थिक सहायता                       🔥 6 हजार रुपये पांच चरणों में
🔥लाभार्थियों की संख्या                   🔥77000
🔥 बजट                                       🔥 43 करोड़




Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 केवल राजस्थान के 4 जिलों में शुरू की जाएगी। इसके बाद इन योजनाओं को पूरे प्रदेश में शुरू किया जाएगा। इस योजना के चरण 1 में निम्नलिखित जिले शामिल हैं।

उदयपुर
डूंगरपुर
बांसवाड़ा
प्रतापगढ़




इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 बजट

इस योजना का बजट राजस्थान सरकार ने 43 करोड़ रुपये निर्धारित किया है। इस योजना के तहत वित्त पोषण राज्य खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट द्वारा किया जाएगा, जो खान एवं भूतत्व विभाग के अधीन काम करेगा। Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 के तहत 2000 हितग्राहियों को ₹1000 की प्रथम किश्त प्रदान की गई है। इस योजना से करीब 77 हजार महिलाएं लाभान्वित होंगी।




Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana का उद्देश्य

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana का मुख्य उद्देश्य सभी गर्भवती महिलाओं को सशक्त बनाना है। इस योजना के माध्यम से गर्भवती महिलाओं को ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। जिससे वह अपने और अपने बच्चे के पोषण पर ध्यान दे सकेंगे। इस योजना से कुपोषण भी कम होगा। इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन किया जाएगा, जिससे समय और पैसे दोनों की बचत होगी और सिस्टम में पारदर्शिता आएगी।




Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 के लाभ की विशेषताएं

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी की 103वीं जयंती के अवसर पर की है।
इस योजना के तहत दूसरी बार गर्भवती होने वाली महिलाओं को ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
यह वित्तीय सहायता पांच चरणों में प्रदान की जाएगी।
वर्तमान में इस योजना के तहत केवल 4 जिलों को शामिल किया गया है जो उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा और प्रतापगढ़ हैं।
Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana पूरे प्रदेश में लागू की जाएगी।
इस योजना के माध्यम से बच्चे और मां दोनों में कुपोषण में कमी आएगी।
इस योजना का बजट 43 करोड़ रुपये है।
इस योजना के तहत लगभग 77000 महिलाएं लाभान्वित होंगी।
इस योजना के माध्यम से लोगों को परिवार नियोजन के साधन अपनाने के लिए भी प्रोत्साहित किया जाएगा। ताकि जनसंख्या नियंत्रित रहे।
इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2023 को राज्य खनिज फाउंडेशन द्वारा खान एवं भूतत्व विभाग के तहत वित्त पोषित किया जाएगा।
राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में हस्तांतरित की जाएगी।
इस योजना के माध्यम से महिलाओं को सशक्त बनाया जाएगा।
दूसरी बार गर्भवती होने पर भी इस योजना का लाभ दिया जाएगा।




Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 की पात्रता

इस योजना के तहत आवेदक राजस्थान का स्थायी निवासी होना चाहिए और यह बहुत ही अनिवार्य है।
अब आप एक महिला होनी चाहिए।
आवेदक बीपीएल श्रेणी से संबंधित होना चाहिए।
जो महिला अपने दूसरे बच्चे को जन्म देने वाली है, उसे ही इस योजना का लाभ दिया जाएगा।
आवेदक महिला के पास स्वयं का बैंक खाता होना आवश्यक है क्योंकि इसमें सहायता राशि सरकार द्वारा दी जायेगी।
आवेदन करते समय महिला के पास अभी तक सभी आवश्यक दस्तावेज होना बहुत जरूरी है।
Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 के तहत अन्य राज्यों की महिलाएं लाभ के लिए आवेदन नहीं कर पाएंगी।




Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2023 के आवश्यक दस्तावेज

आवेदक महिला का आधार कार्ड
सरकारी अस्पताल द्वारा जारी स्वास्थ्य कार्ड
बैंक पासबुक
पासपोर्ट साइज फोटो
पहचान पत्र
मोबाइल नंबर
बीपीएल राशन कार्ड




Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया?

जो भी इच्छुक व्यक्ति इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का लाभ लेना चाहते हैं उन्हें अभी कुछ दिन इंतजार करना होगा, किसी भी मंत्रालय द्वारा इस योजना से संबंधित और इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना से संबंधित कोई भी जानकारी साझा नहीं की गई है। किसी भी प्रकार की जानकारी या अधिसूचना जारी होने पर हम आपको इस वेबसाइट के माध्यम से अपडेट करेंगे, यदि आप इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं और लाभ लेना चाहते हैं तो हम आपसे अनुरोध करते हैं कि कृपया इस वेबसाइट के साथ जुड़े रहें और इस कारण हम तक पहुंचने का प्रयास करेंगे इससे संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी को आप हमारी वेबसाइट के माध्यम से अपडेट कर सकते हैं।




नोट: आज के इस आर्टिकल में हमने आपको Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana से सम्बंधित लगभग सभी जानकारी दे दी है, अगर आप फिर भी कुछ पूछना चाहते है तो कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है।

नोट:- इसी तरह हम केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी सबसे पहले इस वेबसाइट sarkari-yojanaa.in के माध्यम से देते हैं तो हमारी वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर जरूर करें।




Leave a Comment