Atal Pension Yojana हर महीने 5000 रुपये देगी सरकार

Atal Pension Yojana हर महीने 5000 रुपये देगी सरकार




Atal Pension Yojana: केंद्रीय बजट 2023 कुछ ही घंटों में पेश होने वाला है, लेकिन इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना Atal Pension Yojana को लेकर एक नई अपडेट आई है. पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) ने सोमवार को जानकारी दी कि केंद्र सरकार की प्रमुख सामाजिक सुरक्षा योजना ‘Atal Pension Yojana‘ (एपीवाई) के तहत पांच करोड़ से अधिक लोगों ने अपना पंजीकरण कराया है।




साल 2022 में 1.25 करोड़ नए लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया

पीएफआरडीए ने सोमवार को एक बयान में कहा कि इस योजना ने साल 2022 में शानदार प्रदर्शन किया। इस दौरान 1.25 करोड़ नए पंजीकरण हुए, जबकि साल 2021 में सिर्फ 92 लाख लोगों का पंजीकरण हुआ। पेंशन कोष ने कहा कि अब तक 29 बैंकों ने केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित लक्ष्य को पार कर लिया है. सरकारी बैंकों में बैंक ऑफ इंडिया, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और इंडियन बैंक ने अपने निर्धारित वार्षिक लक्ष्यों को हासिल कर लिया है। जबकि क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक (आरआरबी) की श्रेणी में 21 बैंकों ने लक्ष्य हासिल किया है।




महिलाओं की भागीदारी बढ़ी

पीएफआरडीए ने 2021 में स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए भाषण के अनुसार इस योजना को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने के लिए कई कदम उठाए हैं। पीएफआरडीए के अभियान के बाद अब महिलाएं भी इस योजना से जुड़ने लगी हैं। वर्तमान में महिलाओं का पंजीकरण 2021 के 38 प्रतिशत से बढ़कर 2022 में 45 प्रतिशत हो गया है।




क्या है स्कीम की खासियत?

भारत सरकार ने इस योजना को 9 मई 2015 को यूनिवर्सल सोशल सिक्योरिटी सिस्टम के रूप में लॉन्च किया था। इस योजना के तहत, 18-40 वर्ष की आयु के सभी भारतीय नागरिक जिनका किसी भी बैंक या डाकघर में बचत खाता है, निवेश कर सकते हैं।
योजना के तहत पांच पेंशन स्लैब हैं – 1000 रुपये, 2000 रुपये, 3000 रुपये, 4000 रुपये और 5000 रुपये में से चुनने के लिए। सब्सक्राइबर की उम्र 60 साल होने पर चुने गए पेंशन स्लैब के हिसाब से पेंशन मिलती है। योजना के दौरान पेंशन स्लैब में भी बदलाव किया जा सकता है। सब्सक्राइबर की मृत्यु होने पर पेंशन की राशि नॉमिनी को दी जाती है।
इस योजना के तहत कम से कम 20 साल का निवेश करना होता है। योजना के तहत निवेश की जाने वाली राशि ग्राहक की उम्र पर निर्भर करती है। कम उम्र में योजना से जुड़ने पर पांच हजार रुपए तक की पेंशन सस्ते में सुनिश्चित कर सकते हैं।




अगर आप 18 साल से निवेश करते हैं तो आपको अधिक लाभ मिलेगा

इसे इस तरह से समझा जा सकता है कि अगर आप 18 साल की उम्र में एपीवाई की सदस्यता लेते हैं, तो आप हर दिन सिर्फ 7 रुपये बचाकर 60 साल की उम्र में 5,000 रुपये की पेंशन सुनिश्चित कर सकते हैं, जबकि 40 साल की उम्र में एपीवाई के लिए , प्रत्येक रुपये। प्रतिदिन कम से कम 145.40 रुपए की बचत करनी होगी। 18 वर्ष की आयु में योजना का हिस्सा बनने पर 42 वर्ष में 105840 रुपये (210 रुपये प्रति माह) का अंशदान करना होगा जबकि 40 वर्ष की आयु में योजना का हिस्सा बनने पर रुपये का योगदान करना होगा। 348960 (1454 रुपए प्रति माह) बनाना होगा।




नोट: आज के इस आर्टिकल में हमने आपको Atal Pension Yojana से सम्बंधित लगभग सभी जानकारी दे दी है, अगर आप फिर भी कुछ पूछना चाहते है तो कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है।

नोट:- इसी तरह हम केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी सबसे पहले इस वेबसाइट sarkari-yojanaa.in के माध्यम से देते हैं तो हमारी वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर जरूर करें।







Leave a Comment